सोलर पैनल क्या हैं?

सोलर  पैनल  को फोटो-वोल्टाइक  सोलर  मॉड्यूल,  सोलर  प्लेट  और  सोलर  ऊर्जा  पैनल  के  रूप  में  भी जाना  जाता  है। सोलर  पैनल  60-72  सोलर   सेल के  एक  समूह  के  साथ  बने  होते  हैं  जो  सूर्य  के प्रकाश को  बिजली  में  बदलते  हैं।  सोलर सेल को  सिलिकॉन  के  साथ  वेफर्स  में  कटौती  करके बनाया  जाता  है।

सोलर पैनल फ़ोटो

सोलर पैनल फ़ोटो

एक या अधिक सोलर पैनल सोलर सिस्टम बनाता है जिसका उपयोग घरों, कंपनियों, स्कूलों, उद्योगों आदि में किया जा सकता है। सोलर पैनल सोलर सिस्टम का मुख्य हिस्सा है और सभी प्रकार के सोलर सिस्टम (ऑन ग्रिड सोलर सिस्टम, ऑफ ग्रिड सोलर सिस्टम और हाइब्रिड सोलर सिस्टम) में एक ही प्रकार का सोलर पैनल होता है।

सोलर पैनल के प्रकार

सोलर पैनल कई टाइप और कैपेसिटी में उपलब्ध हैं! ये सोलर पैनल एक दुसरे से उनकी फार्मेशन, मटेरियल इत्यादि के बेसिस पर अलग हैं! आपको सोलर पैनल के टाइप के बारे में जानकारी देने के लिए हमने सभी टाइप के सोलर पैनल का संक्षिप्त वर्णन निचे दिया हैं!

 

 

  • थिन फिल्म सोलर पैनल

उपरोक्त सोलर पैनल में से थिन फिल्म सोलर पैनल अब भारत में प्रचलित नही हैं! सभी तरह के कमर्शियल सोलर सिस्टम और होम सोलर सिस्टम में केवल पॉलीक्रिस्टलाइन सोलर पैनल और मोनोक्रिस्टलाइन सोलर पैनल का ही इस्तेमाल होता हैं!

 

पॉलीक्रिस्टलाइन सोलर पैनल

Polycrystalline Solar Panel

Polycrystalline Solar Panel

पॉलीक्रिस्टलाइन सोलर पैनल सबसे कॉमन टाइप के सोलर पैनल हैं! इन सोलर पेनल्स का एफिशिएंसी रेट लगभग 16%-17% के करीब हैं! यह सोलर पैनल हर तरह के मौसम में काम करने के लिए सबसे बेस्ट हैं! पॉलीक्रिस्टलाइन सोलर पैनल की मैन्युफैक्चरिंग के लिए लो प्यूरिटी के सिलिकॉन को इस्तेमाल किया जाता हैं!

 

पॉलीक्रिस्टलाइन सोलर पैनल के बारे में डिटेल में जाने:

Poly Solar Panel

मोनोक्रिस्टलाइन सोलर पैनल

Monocrystalline Solar Panel

Monocrystalline Solar Panel

मोनोक्रिस्टलाइन सोलर पैनल दुसरे नंबर पर आने वाले सबसे सफल सोलर पैनल हैं! मोनो पेल को हाई क्वालिटी सिलिकॉन से बनाया जाता हैं! इन सोलर पैनल की एफिशिएंसी रेट पॉलीक्रिस्टलाइन सोलर पैनल से थोड़ी अधिक (19%-20%) हैं! इन सोलर पैनल की सतह देखने में काले रंग की होती हैं!

 

मोनोक्रिस्टलाइन सोलर पैनल के बारे में और अधिक विस्तार से जाने:

Mono Solar Panel

थिन फिल्म सोलर पैनल

Thin film solar panel

Thin film solar panel

थिन फिल्म सोलर पैनल को बनाने के लिए कई तरह के एलेमेंट्स का स्तेमाल किया जाता हैं! थिन फिल्म सोलर पैनल वजन में हलके और देखने में पतले होते हैं! इस तरह के सोलर पैनल का इस्तेमाल अब इंडिया में नही किया जाता!

 

नोट: थिन फिल्म सोलर पेनल्स अब प्रचलन से बाहर हो चुके हैं! इनका इस्तेमाल भारत में अब और नही किया जाता!

पॉली V/s मोनो क्रिस्टलाइन पैनल

पॉली और मोनो क्रिस्टलाइन सोलर पैनल दोनों ही बेस्ट सोलर पैनल हैं! लेकिन फिर भी जब सोलर पैनल खरीदने की बात आती हैं तो लोगो को अक्सर इनमे से एक पैनल चुनने में काफी दिक्कत आती हैं! आपकी इस दुविधा को हल करने के लिए हमने दोनों तरह के सोलर पैनल के बीच एक तुलनात्मक टेबल निचे दिया हैं!

Type of solar panel - mono and poly panels

Type of solar panel – mono and poly panels

पॉली और मोनो क्रिस्टलाइन पैनल में अंतर

पाली क्रिस्टलाइन सोलर पैनल मोनो क्रिस्टलाइन सोलर पैनल
कम लागत

पैनल की एफिशिएंसी 17% तक

रंग में नीला है

इसमें छत की जगह अधिक होती है

खराब मौसम में कम एफिशिएंसी

महंगा सोलर पैनल

पैनल की एफिशिएंसी 20% तक

देखने में काले रंग का लगता है

इसमें छत की जगह कम होती है

कम रोशनी में भी बेहतर एफिशिएंसी

किस प्रकार का सोलर पैनल सबसे अच्छा है?

सोलर पैनल एफिशिएंसी किसी क्षेत्र में “सूर्य के प्रकाश की मात्रा को बिजली में परिवर्तित” को प्रदर्शित करती है। दो प्रकार के सोलर पैनल के तहत, मोनो क्रिस्टलाइन श्रेष्ठ हैं।

मोनो क्रिस्टलाइन पैनल की अधिकतम एफिशिएंसी 20% तक होती है, इसके लिए कम जगह की आवश्यकता होती है। लेकिन पाली-क्रिस्टलाइन सोलर पैनल की तुलना में थोड़ा महंगा। 100 वाट पॉली और मोनो क्रिस्टलाइन पैनल समान मात्रा में बिजली उत्पन्न करेगा लेकिन मोनो-क्रिस्टलाइन  पैनल पाली-क्रिस्टलाइन  पैनल की तुलना में कम जगह लेगा।

  • मोनो क्रिस्टलाइन  एफिशिएंसी – 20%
  • पाली-क्रिस्टलाइन  एफिशिएंसी- 17%

सोलर पैनल एप्लीकेशन

सोलर पैनल नोर्मल्ली DC करंट पैदा करते हैं जो की कई तरह के एप्लीकेशन्स जैसे सोलर लाइट, सोलर सिस्टम, सोलर वाटर पंप और सोलर एयर कंडीशनर इत्यादि में इस्तेमाल की जाती हैं! इन एप्लीकेशन्स का डिटेल में वर्णन निचे किया गया हैं!

solar panel applications

solar panel applications

सोलर लाइट्स

बैटरी आधारित सोलर लाइट्स एक स्टैंड-अलोन सिस्टम है, जो सोलर पैनल से सोलर स्ट्रीट लाइट, सोलर लालटेन, सोलर होम लाइटिंग सिस्टम आदि में बिजली स्टोर करेगी। आमतौर पर सोलर लाइट्स के लिए सोलर पैनल की शुरुआत 3 watt से 75 watt तक होते हैं।

ऑन ग्रिड सोलर सिस्टम

आमतौर पर 300 वाट सोलर पैनल और उससे अधिक वाट के सोलर पैनल ऑन ग्रिड सोलर सिस्टम में उपयोग किए जाते हैं। ऑन ग्रिड सोलर सिस्टम की रेंज होम सोलर के लिए 1 किलोवाट 10 किलोवाट तक और कमर्शियल सोलर सिस्टम में 15 किलोवाट से 100 किलोवाट तक होती हैं!

ऑफ ग्रिड सोलर सिस्टम

ऑफ ग्रिड सोलर सिस्टम 1किलोवाट से 100 किलोवाट तक होता है। इस प्रकार के सिस्टम में 100 वाट से 330 वाट सोलर पैनल का उपयोग किया जाता है।

हाइब्रिड सोलर सिस्टम

आम तौर पर 300 वाट और उससे ऊपर के सोलर पैनलों का उपयोग हाइब्रिड सोलर सिस्टम में किया जाता है! हाइब्रिड सोलर सिस्टम 3 किलोवाट से शुरू होते है।

सोलर पंप

सोलर वाटर पंप की रेंज 1 HP (3 पैनल) से शुरू होकर 10 HP सोलर वाटर पंप तक है। इन सोलर पंपों में उच्च रेटिंग सोलर पैनल (330 वाट) का उपयोग किया जाता है।

सोलर ए.सी

सोलर ए.सी 300 वाट से ऊपर के सोलर पैनल पर चलाया जा सकता है और साथ ही सोलर पैनल बैटरी बैंक को भी चार्ज करेगा।

सोलर पैनल की कीमत

सोलर पैनल को खरीदते समय सबसे ज्यादा प्रभावित करने वाली बाते यह होती हैं की, “सोलर पैनल की कीमत क्या हैं?” सामान्यतः सोलर पैनल की कीमत को सोलर प्राइस प्रति वाट में मापा जाता है! सोलर पैनल के उपर की गयी इन्वेस्टमेंट एक बड़ी और वन टाइम इन्वेस्टमेंट के जैसी हैं! इसलिए अगर आप सोलर पैनल अपने घर या बिज़नस के लिए खरीदने की सोच रहें हैं तो आपको इनकी कीमत का पता होना चाहिए! आपकी सुविधा के लिए हमने सोलर पैनल की कीमत को निचे लिस्ट के रूप में दिखाया हैं!

Solar panel cost

Solar panel cost

सामान्य सोलर पैनल प्राइस लिस्ट 2020

यहाँ सामान्य का मतलब अच्छी क्वालिटी के सोलर ब्रांड्स से हैं जिनके बारे में शायद आप पहले से ही जानते हों! भारत में केवल कुछ ही सोलर निर्माता हैं जो बेस्ट प्राइस पर सबसे बढ़िया क्वालिटी के सोलर पैनल उपलब्ध करवाते हैं! इन निर्माताओं की लिस्ट में विक्रम सोलर, वारी सोलर, अदानी सोलर, जैक्सन सोलर इत्यादि का नाम आता हैं और इनके सोलर पैनल की कीमत 22 रुपये प्रति वाट से शुरू होकर इनकी गुणवत्ता, मात्रा, आकार, एफिशिएंसी और ब्रांड के आधार पर 36 रूपये प्रति वाट तक होती है।

मॉडल (वाट) सेल्लिंग प्राइस प्राइस प्रति वाट
325 वाट सोलर पैनल Rs.8,450 Rs.22
270 वाट सोलर पैनल Rs.7,020 Rs.26
200 वाट सोलर पैनल Rs.5,600 Rs.28
160 वाट सोलर पैनल Rs.5,120 Rs.32
100 वाट सोलर पैनल Rs.3,200 Rs.32
50 वाट सोलर पैनल Rs.1,800 Rs.36

सोलर पैनल का सबसे बेस्ट प्राइस जानिए:

Get Latest Price

 

बड़े सोलर ब्रांड्स के सोलर पैनल की प्राइस लिस्ट 2020

इस प्राइस लिस्ट में सभी प्रतिष्ठित ब्रांड जैसे टाटा सोलर, उषा सोलर, लुमिनस सोलर, हैवेल्स सोलर आदि के लिए सोलर पैनल की कीमत शामिल है। इन निर्माताओं की कीमत 28 रूपए से शुरू होकर 40 रूपये तक जाती हैं!

मॉडल (वाट) सेल्लिग प्राइस  प्राइस प्रति वाट
325 वाट सोलर पैनल Rs.9,100 Rs.28
270 वाट सोलर पैनल Rs.7,560 Rs.28
160 वाट सोलर पैनल Rs.6,400 Rs.40
100 वाट सोलर पैनल Rs.4,000 Rs.40
50 वाट सोलर पैनल Rs.2,000 Rs.40

ऊपर लिखित प्राइस केवल सोलर पैनल के लिए हैं!

सोलर पैनल का सबसे बेस्ट प्राइस जानिए:

Get Latest Price

सोलर पैनल की कीमत की तुलना

हमने भारतीय बाजार में उपलब्ध शीर्ष सोलर पैनल ब्रांडों के लिए मूल्य की आपस में तुलना की हैं। टाटा सोलर, लुमिनस सोलर, हैवेल्स सोलर, विक्रम सोलर और वारी सोलर पैनलों के बीच मूल्य तुलना निम्नलिखित हैं!

सोलर पैनल मॉडल सेल्लिंग प्राइस  प्राइस प्रति वाट 
Tata 50w solar panel Rs. 2400 Rs. 48
Luminous 50w solar panel Rs. 2000 Rs. 40
Havells 50w solar panel Rs. 2000 Rs. 40
Vikram 50w solar panel Rs. 1800 Rs. 36
Waaree 50w solar panel Rs. 1800 Rs. 36
Tata 100w solar panel Rs. 4800 Rs. 48
Luminous 100w solar panel Rs. 4000 Rs. 40
Havells 100w solar panel Rs. 4000 Rs. 40
Vikram 100w solar panel Rs. 3600 Rs. 36
Waaree 100w solar panel Rs. 3600 Rs. 36
Tata 160w solar panel Rs. 7200 Rs.  45
Luminous 160w solar panel Rs. 6008 Rs. 38
Havells 160w solar panel Rs. 6008 Rs. 38
Vikram 160w solar panel Rs. 4800 Rs. 30
Waaree 160w solar panel Rs.4800 Rs. 30
Tata 270w solar panel Rs. 8100 Rs. 30
Luminous 270w solar panel Rs. 7560 Rs. 28
Havells 270w solar panel Rs. 7560 Rs. 28
Vikram 270w solar panel Rs. 5940 Rs. 22
Waaree 270w solar panel Rs. 5940 Rs. 22
Tata 325w solar panel Rs. 9750 Rs. 30
Luminous 325w solar panel Rs. 9100 Rs. 28
Havells 325w solar panel Rs. 9100 Rs. 28
Vikram 325w solar panel Rs. 6825 Rs. 22
Waaree 325w solar panel Rs. 6825 Rs. 22

सोलर पैनल का सबसे बेस्ट प्राइस जानिए:

Get Latest Price

सोलर पैनल के फायदे और नुकसान

Pros & Cons of Solar Panel

Pros & Cons of Solar Panel

लाभ-फायदे

😀 सोलर पैनल का जीवन काल 25 वर्ष से अधिक होता है।

😀 30% से 70% तक सरकार सब्सिडी उपलब्ध है।

😀 सोलर पैनल स्वच्छ ऊर्जा पैदा करते हैं जो की पर्यावरण को बचाने में मदद करती है।

😀 सोलर पैनल पहले दिन से मुफ्त बिजली का उत्पादन करते हैं।

😀 सोलर पैनल पर किया गया खर्च केवल वन टाइम इन्वेस्टमेंट के जैसा हैं!

😀 सोलर पैनल अनुकूलन और पोर्टेबल सोलर प्रोडक्ट हैं।

हानियां-नुकसान

😥 सोलर पैनल महंगे होते हैं, भारी निवेश की आवश्यकता होती है।

😥 स्थापना के लिए सोलर पैनलों को बड़ी छाया मुक्त की आवश्यकता होती है।

😥 सप्ताह में एक बार नियमित रूप से सफाई की आवश्यकता होती है।

सोलर पैनल का आकार

एक सोलर पैनल का आकार सोलर ब्रांड और उसकी कैपेसिटी के अनुसार अलग अलग होता हैं! परन्तु बड़ी कैपेसिटी के सोलर पैनल (100 वाट से अधिक) का आकार 1 मीटर X 2 मीटर होता हैं और 1 किलोवाट सोलर सिस्टम में तीन सोलर पैनल होते हैं। 1 किलोवाट सोलर पैनल को स्थापित करने के लिए 6 वर्ग मीटर क्षेत्र की आवश्यकता होती है।

सोलर पैनल लम्बाई  चौड़ाई
50 वाट सोलर पैनल 2.2 फीट 1.4 फीट
100 वाट सोलर पैनल 3.3 फीट 2.1 फीट
160 वाट सोलर पैनल 4.8 फीट 2.4 फीट
270 वाट सोलर पैनल 5.4 फीट 3.2 फीट
325 वाट सोलर पैनल 6.4 फीट 3.2 फीट

 

सोलर पैनल कैसे स्थापित करें

हमने नीचे चरणों में सोलर पैनल की स्थापना के लिए एक गाइड बनाया है:

चरण – 1: अपने लोड / उपभोग की गणना करें

चरण – 2: सोलर पैनल सिस्टम के टाइप का चुनाव करें।

चरण – 3: सोलर ब्रांड तय करें।

चरण – 4: साइट पर आने के लिए डीलरों को आमंत्रित करें।

चरण – 5: डीलरों से विस्तृत कोटेशन भेजने के लिए कहें।

चरण – 6: मूल्य, गुणवत्ता और सेवाओं की तुलना करें।

चरण – 7: नेट-मीटरिंग सहित पुरे सोलर सिस्टम के लिए आर्डर प्लेस करें!

चरण – 8: सोलर पैनल क्लीनिंग किट के साथ नियमित सफाई।

नोट: सोलर पैनल के इंस्टालेशन के बारे में और अधिक जानने के लिए आप हमारे सोलर इंस्टालेशन गाइड पेज पर जाये!

सोलर पैनल बाइंग गाइड

Solar Expert Recommendation

Solar Expert Recommendation

जैसा कि आप जानते हैं, मुख्य रूप से दो प्रकार के सोलर पैनल हैं – मोनो और पॉली क्रिस्टल सोलर पैनल। दोनों पैनल अपनी एफिशिएंसी स्तर, कीमत, ब्रांड आदि के लिहाज से एक-दूसरे से अलग हैं। यदि आप अभी भी अपने घर और व्यवसाय के लिए सबसे अच्छे प्रकार के सोलर पैनल के बारे में कंफ्यूज हैं, तो आपको सोलर एक्सपर्ट द्वारा सुझाए गए निम्नलिखित बिंदुओं पर विचार करना चाहिए।

  • आपके द्वारा किये जाने वाली बिजली की खपत को जानने के बाद ही सोलर पैनल खरीदें।
  • कीमत के बारे में चिंता न करें क्योंकि यह एक बार का निवेश है और आप नेट मीटरिंग या बिजली के बिल में कमी के माध्यम से 3 से 5 साल के भीतर अपना निवेश वापस पा लेंगे।
  • हमेशा टाटा सोलर, लुमिनस सोलर इत्यादि जैसे क्वालिटी ब्रांड के सोलर पैनल का चयन करें। इसके अतिरिक्त विक्रम सोलर, वारी सोलर, अदानी सोलर जैसे अन्य सोलर ब्रांड भी हैं।
  • सोलर विशेषज्ञों के अनुसार, मोनोक्रिस्टलाइन सोलर पैनल की दक्षता का स्तर पॉलीक्रिस्टलाइन सोलर पैनल से अधिक है।
  • यदि संभव हो, तो हमेशा सोलर एक्सपर्ट द्वारा साइट विजिट के बाद ऑफ़लाइन ही सोलर पैनल खरीदें।
  • सोलर सिस्टम के अन्य उपकरण जैसे सोलर इन्वर्टर, सोलर बैटरी आदि भी आपको एक ही ब्रांड के खरीदने चाहिए।

सोलर पैनल का रखरखाव

सोलर पैनल एक कम रखरखाव वाला प्रोडक्ट है। हालांकि, सोलर पैनल पर जमा होने वाले धूल कणों को हटाने के लिए नियमित रूप से सोलर पैनल को साफ करना अनिवार्य है। हम सोलर पैनल को साफ करने के लिए सोलर पैनल क्लीनिंग किट का उपयोग करने की सलाह देते हैं।

सोलर पैनल का साफ रखरखाव

सोलर पैनल का साफ रखरखाव

सोलर पेनल की सफाई के लिए क्लीनिंग किट

सोलर पैनल के बारे में सामान्य प्रश्न

सोलर पैनल कैसे काम करते हैं?

सोलर पैनलों सूरज की रौशनी को बिजली में परिवर्तित करता है। सोलर पैनल बिजली का डीसी (डायरेक्ट करंट) रूप उत्पन्न करता है और घरों में AC बिजली का उपयोग किया जाता हैं, इस डायरेक्ट करंट को AC करंट में बदलने के लिए एक सोलर इन्वर्टर इनस्टॉल किया जाता है।

 

क्या सोलर पैनल एयर कंडीशनर या AC चला सकते हैं?

हां, लेकिन सीधे नहीं। आप सोलर सिस्टम पर किसी भी साइज़ के एयर कंडीशनर चला सकते हैं! यदि आप केवल एसी के लिए सोलर पैनल लगाने जा रहे हैं, तो हम आपको सोलर एसी खरीदने की सलाह देते हैं।

 

1 किलोवाट के सोलर पैनल सिस्टम की लागत कितनी है?

यदि आपके पास पहले से ही सोलर इन्वर्टर और सोलर बैटरी हैं और केवल सोलर पैनल की आवश्यकता है, तो आपको सोलर चार्ज कंट्रोलर सहित 30,000 के आसपास रूपए खर्च करने होंगे!

 

मैं भारत में सोलर पैनल कहां से खरीद सकता हूं?

सोलर पैनल खरीदने के लिए आप हमसे संपर्क करें या इसे हमारे ऑनलाइन सोलर स्टोर से खरीदे।

 

हम सोलर पैनल पर कंप्यूटर सेंटर चला सकते हैं?

आम तौर पर कंप्यूटर सेंटर में 10 से 15 डेस्कटॉप कंप्यूटर, 4 पंखे, 1 कूलर और 4 ट्यूब लाइट होते हैं! आप 3 किलोवाट सोलर सिस्टम का चुनाव करके अपना कंप्यूटर सेंटर चला सकते हैं।

 

भारत में सोलर पैनल की इंस्टालेशन कास्ट कितनी है?

सोलर पैनल की इंस्टालेशन कास्ट 2 रु प्रति वाट रुपये से 10 प्रति वाट है । सोलर पैनल की इंस्टालेशन लागत स्थान और सोलर सिस्टम के प्रकार और उसकी क्षमता पर निर्भर करता है।

 

सोलर पैनल स्थापित करने के लिए छत के स्थान की कितनी आवश्यकता है?

6 वर्ग मीटर प्रति किलोवाट। एक 335 वाट सोलर पैनल का आकार लगभग 1 मीटर x 2 मीटर है और 1 किलोवाट सोलर सिस्टम में 3 पैनल उपयोग किए जाते हैं।

 

क्या मेरी छत सोलर पैनल के लिए उपयुक्त है?

सोलर पैनल सीधे आपकी छत पर नहीं लगाए जाते हैं, सोलर पैनल स्ट्रक्चर पर लगते हैं जिन्हें आपकी छत के हिसाब से कस्टमाइज किया जा सकता है। यदि उचित धूप हो तो हाँ, सोलर पैनल किसी भी तरह की छत के लिए उपयुक्त हैं।

 

क्या मैं सोलर पैनल से सीधे पंखा चला सकता हूं?

हां, डीसी पंखे को सोलर चार्ज कंट्रोलर के जरिए सीधे सोलर पैनल पर चलाया जा सकता है। एसी पंखे के मामले में, सोलर इन्वर्टर इनस्टॉल करने के बाद आप कोई भी उपकरण चला सकते हैं।

 

सोलर पैनल के रखरखाव पर कितना खर्च होता है?

हालांकि सोलर पैनल एक कम-रखरखाव वाला उत्पाद हैं! सोलर पैनल पर जमा होने वाले धूल कणों को हटाने के लिए नियमित रूप से सोलर पैनल को साफ करना अनिवार्य है। इसके लिए आप सोलर पैनल क्लीनिंग किट का इस्तेमाल कर सकते हैं जिसकी कीमत 20,000 रूपये से शुरू होती हैं!

 

एक सोलर पैनल का औसत जीवनकाल क्या है?

भारत में टॉप सोलर ब्रांड्स 25 साल की वारंटी के साथ सोलर पैनल निर्मित करते हैं। हालांकि सोलर पैनल की ब्रांड और गुणवत्ता के आधार पर, सोलर पैनल की उम्र 30-40 वर्ष तक हो सकती है।

भारत में शीर्ष सौर ब्रांड

हम सभी प्रकार के सोलर पैनल, सोलर बैटरी, सोलर इन्वर्टर, सोलर सिस्टम, सोलर वॉटर हीटर, सोलर एयर कंडीशनर, सोलर लाइट्स और सोलर पंप जैसे सभी प्रकार के सोलर प्रोडक्ट्स में डील करते हैं।

हम टाटा सोलर, उषा सोलर, लुमिनस सोलर, सुकेम सोलर, हावेल्स सोलर, माइक्रोटेक सोलर, एक्साइड सोलर, वारी सोलर, विक्रम सोलर, जैक्सन सोलर, लुबी सोलर, डेल्टा सोलर इन्वर्टर सहित सभी प्रतिष्ठित ब्रांडों में डील करते हैं।[logoshowcase]

Author: Hari Sharan
Updated On: 07/01/2021